June 25, 2024
Sunil Jakhar Dalit Controversy

Sunil Jakhar

सुनील जाखड़ ने कहा कि "कांग्रेस ने चन्नी को सीएम बना कर बहुत बड़ी गलती की थी। क्यूंकि इनकी जगह पैरों में ही होनी चाहिए ,
Spread the love

चंडीगढ़ : पंजाब कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ इन दिनों विवादों में हैं। यह विवाद उनके दलितों प्रति दिए बयान के कारण सामने आया है। sunil jakhar dalit controversy एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में सुनील जाखड़ ने पूर्व सीएम चन्नी पर निशाना साधा वहीं दलितों प्रति भी घटिया शब्दों का इस्तेमाल किया।

इसके बाद उनका जगह जगह विरोध भी हुआ , दलित भाईचारे ने जाखड़ के पुतले जलाये वहीं उन्हें जल्द से जल्द माफ़ी मांगे को भी कहा। साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष श्री मति सोनियां गाँधी से जाखड़ को कांग्रेस से बाहर निकालने की भी अपील की।

Sunil Jakhar Dalit Controversy
Charanjit Singh Channi

आपको बता दें कि पिछले साल जब विधानसभा चुनाव होने थे , तब कांग्रेस पार्टी ने पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह को सीएम पद से हटा दिया था। कांग्रेस ने दलित कार्ड खेलते हुए उस समय चरणजीत सिंह चन्नी को सीएम बना दिया था। पूर्व सीएम चन्नी एसी कैटागिरी से आते हैं। यही बात सुनील जाखड़ को चुभ गयी। क्यूंकि अगर उस समय अगर चन्नी को मुख्यमंत्री नहीं बनाया जाता तो सुनील जाखड़ सीएम बनते। आपको बता दें कि अम्बिका सोनी , चरणजीत चन्नी , नवजोत सिद्धू ,सुनील जाखड़ का नाम सीएम पद के लिए आगे था।

लेकिन अम्बिका सोनी ने ये कहते हुए पासा पलट दिया कि पंजाब का सीएम तो कोई सिख चेहरा ही होना चाहिए। इसी के साथ जाखड़ के सीएम बनने की सारी उमीदों पर पानी फिर गया। हालाँकि जाखड़ इंटरव्यू में कई बार दावा कर चुके हैं कि उनके समर्थन में 40 विधायक थे। लेकिन कांग्रेस हाई कमान ने उनको फिर भी सीएम नहीं बनाया व चन्नी को सीएम बना दिया।

Sunil Jakhar Dalit Controversy
Sunil Jakhar Congress Leader

क्या बोले जाखड़ Sunil Jakhar Dalit Controversy

अभी निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में सुनील जाखड़ ने कहा कि “कांग्रेस ने चन्नी को सीएम बना कर बहुत बड़ी गलती की थी। क्यूंकि इनकी जगह पैरों में ही होनी चाहिए , इन्हे जूती के निच्चे ही रखना चाहिए ,वहीं इनकी असल जगह होती है।”
विवाद बढ़ने के बाद सुनील जाखड़ ने लाइव आकर माफ़ी भी मांगी , जाखड़ ने कहा कि उन्होंने सिर्फ चन्नी के लिए ये कहा था न कि किसी जात या धर्म के लिए , उन्होंने कहा कि दलित भाईचारे का अपमान करना तो दूर वो कभी ऐसा सोच भी नहीं सकते।

जाखड़ ने कहा कि अगर फिर भी किसी को उनकी बातों से बुरा लगा तो उन्हें खेद है। आपको बता दें कि जाखड़ ने एक इंटरव्यू में पहले भी कहा था कि वो पूर्व सीएम चन्नी को कभी भी अपना नेता नहीं मानते।

बहरहाल , इस विवाद के बाद पूर्व सीएम चन्नी ने भी नई दिल्ली में राहुल गाँधी से मुलाकात की , चन्नी ने मीडिया को कहा कि जाखड़ की दलितों प्रति सोच आज सभी के सामने आ गयी है। चन्नी ने कहा कि पहले इनके परिवार भी दलितों को धोखे में रखकर उनकी वोट लेकर सरकार में रहे हैं।

 


Spread the love

Leave a Reply