May 20, 2024
Global Hunger Index Report India 2021

Global Hunger Index Report India 2021

ग्लोबल हंगर रिपोर्ट में भारत अपने 2020 के रैंक से भी नीचे आ गया है भारत साल 2020 की ग्लोबल हंगर इंडेक्स रिपोर्ट में 94वें स्थान पर था लेकिन अब साल 2021 की ग्लोबल हंगर रिपोर्ट में भारत 101वें स्थान पर पहुंच गया है।
Spread the love

New Delhi : ग्लोबल हंगर रिपोर्ट में भारत अपने 2020 के रैंक से भी नीचे आ गया है भारत साल 2020 की ग्लोबल हंगर इंडेक्स रिपोर्ट में 94वें स्थान पर था लेकिन अब साल 2021 की ग्लोबल हंगर रिपोर्ट में भारत 101वें स्थान पर पहुंच गया है। चिंताजनक बात ये है कि भारत अब बंगलादेश , पाकिस्तान व नेपाल से भी नीचे आ गया है।

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में अन्य देश

ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट के अनुसार चीन , चिली , ब्राज़ील , कुवैत जैसे 18 देश पहले नंबर पर आये हैं। हंगर इंडेक्स रिपोर्ट में फिजी ने 40वां जमैका ने 41वां , थाईलैंड ने 53वां रैंक प्राप्त किया है। श्री लंका 65वें , बंगलादेश व नेपाल ने 76 वां व पाकिस्तान 92 वां रैंक प्राप्त किया है। 116 देशों की इंडेक्स सूची में सोमालिया 116 वें रैंक के साथ सबसे निचले पायदान पर है।

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत की स्तिथि

भारत का साल 2014 में 55वां रैंक था लेकिन साल 2015 में ये 80 तक पहुंच गया इसी तरह साल 2020 में 94 वें व अब साल 2021 में 101 रैंक पर नीचे आ गया। ग्लोबल हंगर इंडेक्स रिपोर्ट जर्मनी व आयरलैंड देशों की एजेंसियां मिलके तैयार करती है। रिपोर्ट में पांच साल तक के बच्चे का कुपोशण व उनकी सेहत की रिपोर्ट के आधार पर तैयार की जाती है।

देश में हर साल बर्बाद होता है लाखों टन अनाज

भारत के लिए हंगर इंडेक्स में रैंक लगातार गिरना चिंताजनक है क्यूंकि यहां ऐसा नहीं कि खदान की कोई कमी है ऐसा बिलकुल भी नहीं है क्यूंकि यहां हर साल लाखों टन अनाज बर्बाद होता है अगर यही अनाज जरुरतमंदो के काम आये तो हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट में भारत का रैंक अच्छा हो सकता है। हालाँकि बर्बाद होते खदान को लेकर सुप्रीम कोर्ट भी केंद्र को कह चूका है कि खदान को ख़राब करने से अच्छा है इसे जरूरतमंद लोगों में दिया जाये।

लेकिन केंद्र सरकार ने इस तरफ कोई ध्यान नहीं दिया है। हैरानीजनक बात ये है कि खदान बाहर दूसरे देशों की सहायता के लिए भेजा जाता है जबकि खुद भारत में भुखमरी व कुपोशण के इतने ख़राब हालात बने हुए है। केंद्र सरकार को अब ग्लोबल हंगर इंडेक्स रिपोर्ट में दिए रैंक से हुई भारत की बदनामी को देखते हुए ख़राब स्थिति को सुधारने की तरफ ध्यान देना चाहिए ताकि भारत का विश्व गुरु बनने का सपना साकार हो।


 


Spread the love

Leave a Reply