June 18, 2024
Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore

Tata will buy Bisleri company for 7000 thousand crore rupees

Spread the love

भारत में मिनरल वाटर बनाने वाली दिग्गज कम्पनी बिसलेरी अब टाटा की हो सकती है। Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore बिश्लेरी के मालिक रमेश चौहान टाटा को बिसलेरी सात हज़ार करोड़ में बेच सकते हैं। इकनॉमिक टाइम्स में छप्पी एक खबर के अनुसार बिसलेरी को टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (TCPL) बिसलेरी को 6,000-7,000 करोड़ रुपए में खरीद रहा है।

पीटीआई से बातचीत करते हुए रमेश चौहान ने कहा कि वह बिसलेरी के लिए खरीददार तलाश रहे हैं। हालाँकि उनके मुताबिक टाटा के साथ अभी सात हज़ार करोड़ वाली डील पक्की नहीं हुई है। उन्होंने पीटीआई को बताया कि अभी कई और भी खरीददार लाइन में हैं। Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore

बेटी नहीं संभाल रही कारोबार : Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore

Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore
Tata will buy Bisleri company for 7000 thousand crore rupees

रमेश चौहान के अनुसार उन्होंने बिसलेरी को बेचने का इरादा इस लिए किया है क्यूंकि उन्हें कंपनी के लिए कोई उत्तराधिकारी नहीं मिला है। उनकी बेटी ने कारोबार संभालने से इनकार कर दिया है। इस लिए उन्होंने बिसलेरी को बेचने का प्लान बनाया है। आपको बता दें कि बिसलेरी भारत की सबसे बड़ी पैकेज्ड वाटर कंपनी है। चौहान ने टाटा की तरफ डील का इशारा करते हुए कहा कि अब टाटा मेरे बिजनेस को आगे बढ़ाएगा। क्यूंकि मुझे टाटा का कल्चर बहुत पसंद है। रमेश चौहान के मुताबिक टाटा के इलावा भी रिलायंस , नेस्ले व डेनोन सहित कई खरीदार लाइन में थे। Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore

चौहान ने बताया कि FY23 के लिए बिसलेरी ब्रांड का कारोबार 220 करोड़ रुपए के प्रॉफिट के साथ 2,500 करोड़ रुपए होने का अनुमान है। मार्च 2021 को खत्म साल में कंपनी ने 1,181.7 करोड़ रुपए की बिक्री और 95 करोड़ रुपए का प्रॉफिट दर्ज किया। वहीं मार्च 2020 को खत्म वित्त वर्ष में कंपनी का रेवेन्यू 1,472 करोड़ रुपए था और 100 करोड़ रुपए का प्रॉफिट दर्ज किया था।

कैसे हुई बिसलेरी की शुरुआत : Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore

Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore
MS. Jyanti Chauhan

आपको बता दें कि रमेश चौहान ने 24 साल की उम्र में बिसलेरी बेचना शुरू किया था। उन्होंने मैकेनिकल इंजीनियरिंग और बिजनेस मैनेजमेंट किया है। हमेशा अपने समय से आगे रहने के लिए जाने जाने वाले चौहान ने 27 साल की उम्र में भारतीय बाजार में बोतलबंद मिनरल वाटर पेश किया था। रमेश चौहान ने 1969 में बिसलेरी को मात्र चार लाख में खरीदा था। अब सात हज़ार करोड़ में बेच रहे हैं।

उनकी बेटी जयंती ने हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद प्रोडक्ट डेवलपमेंट की पढ़ाई करने के लिए लॉस एंजिल्स के फैशन इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन एंड मर्चेंडाइजिंग (FIDM) में एडमिशन लिया। फिर उन्होंने इस्टिटूटो मारंगोनी मिलानो में फैशन स्टाइलिंग को सीखा। उन्होंने लंदन कॉलेज ऑफ फैशन से फैशन स्टाइलिंग और फोटोग्राफी भी सीखी है। Tata buy Bisleri company for 7000 thousand crore

जयंती ने 24 साल की उम्र में बिसलेरी जॉइन की थी। उन्होंने दिल्ली ऑफिस का कार्यभार संभाला, जहां उन्होंने जमीनी स्तर पर शुरुआत की। उन्होंने फैक्ट्री का रेनोवेशन और ऑटोमेशन किया। 2011 में उन्होंने मुंबई ऑफिस का कार्यभार संभाला। न्यू प्रोडक्ट डेवलपमेंट के साथ वो पुराने प्रोडक्ट के ऑपरेशन को स्ट्रीमलाइन करने में भी शामिल रहीं। जयंती शौकिया फोटोग्राफर और ट्रैवलर भी हैं। अभी वो कंपनी में वाइस चेयरपर्सन हैं।

देश दुनियां की ताज़ा खबरों व कानून सबंधी हर तरह की जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट को फॉलो जरूर करें। धन्यवाद !


Spread the love

Leave a Reply