June 18, 2024
Sidhu Moosewala Murder Case

Sidhu Moosewala Murder Case

Spread the love

चंडीगढ़ : रविवार शाम मशहूर सिंगर सिद्धू मूसे वाला की दिन दिहाड़े गैंगस्टरों द्वारा गोलियां मारकर हत्या कर दी गयी। Sidhu Moosewala Murder Case सिंगर मूसे वाला अपनी थार लेकर गावं मूसे वाला से जिला मनसा की तरफ जा रहे थे। तभी रस्ते में तीन गाड़ियां उनका पीछा करने लगी। एक धार्मिक स्थल के पास तीन गाड़ियों में से एक गाड़ी ने मूसेवाला को ओवरटेक करते हुए सिंगर की गाड़ी के आगे लगा कर रोक लिया। इसके बाद पीछे आ रही गाड़ियों से हमलावर निकले और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर कर दी।

गैंगस्टरों ने मुस्सेवाला पर तीस से ज्यादा गोलियां चलाई। मूसेवाला के साथ गाड़ी में उनके तो साथी भी थे। हालाँकि मुसेवाला ने भी अपने लाइसेंसी रिवालर से तो गोलियां चलाई थी लेकिन वो किसी को भी नहीं लगी।

हमलावर चंद सेकण्ड्स में वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। इसके बाद गांव के लोग इकठा हुए उन्होंने मूसे वाला व् साथियों को जिला हस्प्ताल में भर्ती करवाया। हालाँकि मूसेवाला पहले ही जख्मों को न सहन करते हुए पहले ही दम तोड़ चुके थे। हमलावर सात से आठ के करीब बताये जा रहे हैं। इस कत्ल कांड की जुमेवारी कनाडा में बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ व लॉरेंस बिश्नोई ग्रुप ने ली है। ग्रुप ने कहा कि सिद्धू मूसेवाला उनके एंटी ग्रुप का साथ दे रहा था।

इसलिए उन्होंने अपने साथ विक्की मिड्डू खेड़ा कत्ल कांड का बदला लिया है , ग्रुप ने कहा कि सिद्धू मूसे वाला ने विक्की मिड्डू खेड़ा कत्ल के शूटरों को पनाह दी थी। आपको बता दें कि विक्की मिड्डू खेड़ा को बंबीहा ग्रुप द्वारा 2021 में गोलियां मारकर कत्ल कर दिया गया था। इसके बाद लौरेंस गैंग ने उसका बदला लेते हुए सिद्धू मूसे वाला का कत्ल कर दिया। गायक सिद्धू मूसेवाला विक्की मिड्ढु खेड़ा के कत्ल के बाद से ही लॉरेंस ग्रुप के निशाने पर थे।

वेश्यावृति भी एक पैसा है , सेक्स वर्कर्स को तंग न करे पुलिस प्रशासन : सुप्रीम कोर्ट 

लॉरेंस ग्रुप व बंबीहा ग्रुप की दुश्मनी

लौरेंस ग्रुप व दविंदर बंबीहा ग्रुप की दुश्मनी साल 2017 में शुरू हुई थी। तब कोटकपूरा में बंबीहा ग्रुप के लवी दियोड़ा की लौरेंस ग्रुप के शूटर सम्पत नेहरा व उसके साथियों ने मारा था। इसके बाद लॉरेंस ग्रुप के अबोहर शेरेवाला निवासी अंकित भादू को पंजाब पुलिस की ओकु टीम ने जिकरपुर एनकाउंटर में मारा था। तब लॉरेंस ग्रुप को शक था कि भादू की मुखबरी मलोट निवासी बंबीहा ग्रुप के करीबी मनप्रीत मन्ना ने पुलिस को दी है।

Sidhu Moosewala Murder Case
Sidhu Moosewala Murder Case

इसके बाद लौरेंस ने अपने साथी कनेडा में बैठे गोल्डी बराड़ के साथ मिलकर मनप्रीत मन्ना को एक माल के बाहर साल 2019 में गोलियों से भून दिया गया। मनप्रीत मन्ना का बदला लेने के लिए आर्मीनिया में बैठे लकी पटियाल (बंबीहा ग्रुप ) ने कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ के रिश्ते में भाई लगते फरीदकोट छात्र नेता गुरलाल बराड़ की चंडीगढ़ में हत्या करवा दी।

गुरलाल बराड़ की हत्या के बाद गोल्डी बराड़ लॉरेंस ग्रुप ने अक्टूबर 2020 में गांव औलख के पास दविंदर बंबीहा ग्रुप का करीबी होने के शक में रंजीत सिंह राणा की हत्या करवा दी। इसके बाद कांग्रेस प्रधान गुरलाल पहलवान की गोल्डी बराड़ व लॉरेंस ने हत्या करवा दी। इसके बाद बंबीहा ग्रुप के लक्की पटिआल आर्मीनिया से साजिस करते हुए लौरेंस के करीबी विक्की मिड्डू खेड़ा की 2021 में हत्या करवा दी।

इसके बाद इंटरनेशनल कब्बडी खिलाडी रहे संदीप नंगल अम्बिया की मार्च 2022 हत्या करवा दी गयी। अब लौरेंस व गोल्डी बराड़ ने 29 मई को गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या करवा दी।

Sidhu Moosewala Murder Case
Mankirt Aulakh News

सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद बंबीहा ग्रुप व दिल्ली के नरवाना ग्रुप ने अपने पेज से पंजाबी सिंगर मनकीरत औलख व लॉरेंस बिश्नोई को जान से मारने की धमकी दी है। बंबीहा ग्रुप ने कहा कि सिद्धू मूसेवाला का हालाँकि उनके ग्रुप के साथ कोई सबंध नहीं था। लेकिन फिर भी वो इस हत्याकांड का बदला दो दिनों में लौरेंस को मारकर ले लेंगे।

हाई कोर्ट पहुंचा लॉरेंस बिश्नोई Sidhu Moosewala Murder Case

Sidhu Moosewala Murder Case
Lawrence Bisnoi

वहीं सिद्धू मूसेवाला कत्ल कांड में आरोपी लॉरेंस बिश्नोई ने अपनी जान को खतरा बताते हुए दिल्ली हाई कोर्ट का रुख किया है। लॉरेंस ने कहा कि उसकी जान को खतरा है पंजाब पुलिस को उसकी कस्टडी नहीं दी जाये क्यूंकि पंजाब पुलिस रस्ते में ही राजनीतक दबाव के चलते उसका एनकाउंटर कर सकती है। लॉरेंस ने पहले पटिआला हाउस एएनआई कोर्ट का रुख किया था लेकिन कोर्ट ने उसकी अपील ये कहकर ख़ारिज कर दी , लॉ एन्ड आर्डर का मसला राज्य का होता है व राज्यों को इस सबंधी पूछताछ का अधिकार है।

सिद्धू मूसेवाला कत्लकांड में गिरफ्तारी Sidhu Moosewala Murder Case

मानसा पुलिस ने इस कत्लकांड में उत्तराखंड व हिमाचल से सात लोगों को गिरफ्तार किया है इनमे दिल्ली के अम्बेडकर नगर का शूटर शारुख भी शामिल है। शारुख ने पुलिस रिमांड में कबूला है कि उसको गोल्डी बराड़ व लॉरेंस ग्रुप ने ही हत्या के लिए भेजा था। शूटर ने यह भी बताया कि नो महीने पहले भी व रेकी करते हुए सिद्धू की हत्या करने के लिए पहुंचा था लेकिन तब उसके पास एके 47 वाले सेक्युर्टी गार्ड थे तब उन्हें देख कर वो वापस आ गया।

उसने भी गोल्डी बराड़ से इन हथियारों की मांग की। अब जब पंजाब सरकार ने सिद्धू मूसेवाला की सेक्युर्टी कम कर दी थी तब गैंगस्टरों ने मौका देखते हुए सिंगर का कत्ल कर दिया।


Spread the love

Leave a Reply