June 18, 2024
Punjab Govt Vs Governor News Today

Punjab Govt Vs Governor News Today

Spread the love

पंजाब में लग सकता है राष्ट्रपति शासन, गवर्नर ने दी चेतावनी

चंडीगढ़ : पंजाब में सीएम भगवंत मान व पंजाब के गवर्नर बीएल प्रोहित के बीच छिड़ी जंग खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। यहां तक की अब राज्यपाल ने पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगाने तक की चेतावनी दे दी है। क्यूंकि 15 अगस्त को गवर्नर ने एक लेटर सीएम मान को लिखा था जोकि अब सामने आया है। इसमें गवर्नर ने पंजाब सरकार से नशों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई को लेकर रिपोर्ट मांगी थी।

लेकिन पंजाब सरकार की तरफ से अभी तक गवर्नर ऑफिस को कोई रिपोर्ट बना कर नहीं दी गयी। जिससे खफा गवर्नर ने अपने लेटर को अनदेखा करने के आरोप लगाते हुए कहा कि सीएम मान जानकारी उपलब्ध नहीं करवाकर अनुच्छेद 167 के प्रावधानों का उलंघन कर रहे हैं। ऐसे में उनके पास एक ही क़ानूनी विकल्प बचा है जिसे वो पंजाब में राष्ट्रपति शासन की मांग करेंगे।

गवर्नर ने अपने लेटर में मान को लिखा : Punjab Govt Vs Governor News Today

गवर्नर ने लिखा है कि वह संवैधानिक तंत्र की विफलता के बारे में संविधान के अनुच्छेद 356 के तहत राष्ट्रपति को रिपोर्ट भेजी जानी है। IPC की धारा 124 के तहत आपराधिक कार्रवाई शुरू करने का फैसला लेने से पहले जानकारी मांग रहे हैं।

Punjab Govt Vs Governor News Today
Punjab CM Bhagwant Mann and Governor BL Purohit

साथ ही राज्य में ड्रग्स की समस्या से निपटने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से उठाए गए कदमों की जानकारी भी गवर्नर दफ्तर को भेजी जाए। गवर्नर ने अपने पत्र में लिखा है कि ऐसा नहीं किए जाने की सूरत में उनके पास कानून और संविधान के अनुसार कार्रवाई करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा।

वहीं आप प्रवक्ता ने कहा कि पंजाब में गवर्नर सरकार के कामों में इंटरफेयर कर रहे हैं। एहबाब ग्रेवाल ने कहा कि पंजाब में ऐसी कोई स्तिथि नहीं है कि राष्ट्रपति शासन लगे। उन्होंने कहा कि सरकार को जानकारी देने में कोई एतराज़ नहीं है लेकिन मगर, कोई भी डेमोक्रैटिकली इलेक्टेड गवर्नमेंट ये बर्दाश्त नहीं करेगी कि उनकी डे टू डे की एक्टिविटीज में हस्तक्षेप किया जाए। संविधान को ताक पर रखकर 9 साल में 9 स्टेट गवर्नमेंट खत्म कर दी गई।

जानकारी मांगना उनका अधिकार है, हम दे भी देंगे लेकिन प्लीज डेली कामकाज में इंटरफेयर न करें। इसे बढ़ा-चढ़ाकर बताना ठीक नहीं है। गवर्नर को चाहिए कि एक चिट्‌ठी केंद्र को भी लिखें कि पंजाब में त्रासदी आई है। बिना मतलब की कंट्रोवर्सी खड़ी न करें।

ऐसी अन्य जानकारियों के हमारी वेबसाइट को फॉलो करना न भूलें। बगल में दी गयी घंटी के आइकॉन पर प्रेस करें जिससे आपको आने वाली हर जानकारी मिलती रहेगी। धन्यवाद !


Spread the love

Leave a Reply