April 25, 2024
PM Modi's visit to America and Egypt

PM Modi's visit to America and Egypt

Spread the love

अमेरिका मिस्त्र दौरे से रात एक बजे दिल्ली वापस लौटे पीएम मोदी

New Delhi :PM Modi’s visit to America and Egypt- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार देर रात विदेश दौरे से स्वदेश लौटे। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एयरपोर्ट पहुंचकर पीएम मोदी का स्वागत किया। इस दौरान पीएम मोदी ने जेपी नड्डा से मिलते ही पूछा कि देश में क्या चल रहा है? नड्डा ने भी प्रधानमंत्री को पार्टी द्वारा चलाए जा रहे बीते नौ साल के सरकार के रिपोर्ट कार्ड पेश करने के अभियान के बारे में बताया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राज्य अमेरिका से वापस आते समय 19-20 जून, 2023 को मिस्र का दौरा किया। उन्होंने मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की और व्यापार, निवेश, ऊर्जा और सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की। PM Modi’s visit to America and Egypt

मोदी की मिस्र यात्रा 10 वर्षों में किसी भारतीय प्रधान मंत्री की पहली यात्रा थी। इसे दोनों देशों के बीच संबंधों को गहरा करने के अवसर के रूप में देखा गया, जिनका सहयोग का एक लंबा इतिहास है।

PM Modi’s visit to America and Egypt

अपनी यात्रा के दौरान, मोदी और अल-सीसी ने कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए, जिनमें नागरिक परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग पर एक रूपरेखा समझौता भी शामिल था। उन्होंने मध्य पूर्व की स्थिति पर भी चर्चा की और क्षेत्र में शांति और स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करने पर सहमति व्यक्त की।PM Modi's visit to America and Egypt

मोदी की मिस्र यात्रा के बाद संयुक्त राज्य अमेरिका की यात्रा हुई, जहां उन्होंने राष्ट्रपति जो बिडेन और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने यूक्रेन संकट, इंडो-पैसिफिक और जलवायु परिवर्तन सहित कई मुद्दों पर चर्चा की।

मोदी की संयुक्त राज्य अमेरिका यात्रा को दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के अवसर के रूप में देखा गया। दोनों नेता आम चुनौतियों से निपटने और भारत-प्रशांत क्षेत्र में शांति और समृद्धि को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करने पर सहमत हुए।

मोदी की मिस्र और अमेरिका यात्रा के कुछ प्रमुख परिणाम इस प्रकार हैं:

  • दोनों देशों ने असैनिक परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग पर एक रूपरेखा समझौते पर हस्ताक्षर किये।
  • वे मध्य पूर्व में शांति और स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करने पर सहमत हुए।
  • मोदी और बिडेन ने यूक्रेन संकट, इंडो-पैसिफिक और जलवायु परिवर्तन पर चर्चा की।
  • दोनों नेता आम चुनौतियों से निपटने और भारत-प्रशांत क्षेत्र में शांति और समृद्धि को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करने पर सहमत हुए।
  • कुल मिलाकर मोदी की मिस्र और अमेरिका यात्रा सफल रही. इससे दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने और कई मुद्दों पर सहयोग को बढ़ावा देने में मदद मिली।

Spread the love

Leave a Reply