June 18, 2024
haryana wrestler protest news today

haryana wrestler protest news today

Spread the love

23 फरवरी को आने वाली रिपोर्ट 23 अप्रैल को भी जारी नहीं , पहलवान धरने पर लौटे

सोनीपत: haryana wrestler protest news today- देश के दिग्गज पहलवान अभ्यास छोड़कर एक बार फिर से जंतर मंतर ,दिल्ली पर पहुंच गए हैं व् भारतीय कुश्ती संघ के प्रधान एंव सांसद बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरना शुरू कर दिया है। पहलवानों ने कहा कुश्ती प्रधान की ओर से जहां पहलवानों का शोषण किया गया तो वहीं दूसरी ओर शिकायत करने के बावजूद उन्हें ही झुकने के लिए मजबूर किया गया ,उन्हें धमकाया गया। haryana wrestler protest news today

haryana wrestler protest news today
haryana wrestler protest

खेल मंतालय के झूठे आवश्वासन के चलते करीब तीन महीने तक पहलवानों ने इंतजार किया ,लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। शिकायत के आधार पर कुश्ती संघ प्रधान का न केवल नार्को टेस्ट हो बल्कि तत्काल उनकी गिरफ्तारी भी की जाए। यही नहीं सरकार को चाहिए कि वे अपनी जाँच रिपोर्ट सार्वजनिक करें। ऐसा नहीं होने तक पहलवान जंतर मंतर से नहीं जाएंगे। पहलवानों ने कहा कि अब न्याय के लिए कोर्ट जाने की जरूरत पड़ी तो वहां भी अपील की जाएगी।

इस मामले में जाँच कमेटी के मेंबर सही जानकारी देने के बजाए गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। कमेटी के एक मेंबर सहदेव सिंह यादव ने जहां कहा ,अभी जाँच के कुछ ओर बिंदु बाकि है तो वहीं दूसरी ओर साई की वरिष्ठ अधिकारी एंव जाँच कमेटी की मेंबर राधिका श्रीमन ने कहा जाँच रिपोर्ट सरकार को सौंपी जा चुकी है ,इस बार क्या फैसला लेना है वह वही तय करेगी । जाँच रिपोर्ट के बारे में उन्होंने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया। haryana wrestler protest news today

haryana wrestler protest news today
Wrestlers-Protest-Jantar-Mantar

बता दें कि खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने 23 जनवरी को एमसी मैरी कॉम की अगुवाई में जाँच के लिए निगरानी समिति का गठन किया था। जिसमें कमांडर राजेश राजगोपाल ,राधिका श्रीमान ,बबिता फोगट ,योगेश्वर दत और तृप्ति मुरगुण्डे को शामिल किया गया था। पहले जाँच 23 फरवरी तक होनी थी ,फिर इसका कार्यकाल लगातार बढ़ाया गया। haryana wrestler protest news today

लोगों ने हमें ही जूठा समझना शुरू कर दिया- haryana wrestler protest news today

ओलंपिक मेडलिस्ट साक्षी मलिक ने कहा ,यह कुश्ती संघ के प्रधान के खिलाफ सीधे तौर पर यौन शोषण का मामला है ,लेकिन न जाँच रिपोर्ट आयी और न ही सीपी थाने में एफआईआर दर्ज की गई। लोगों ने हमे झूठा कहना शुरू कर दिया ,हम खिलाडियों ने अपना पूरा करियर दांव पर लगाया है ,लशासन प्रशासन से कोई कार्यवाई नहीं की जा सकी।


Spread the love

Leave a Reply